Breaking News
Home / ताजा खबरें / बच्चो से मिलने के लिए PM नरेन्द्र मोदी ने तोड़ा प्रोटोकॉल और पंजाब के कलाकारों के बीच जाकर कर डाली ये डिमांड

बच्चो से मिलने के लिए PM नरेन्द्र मोदी ने तोड़ा प्रोटोकॉल और पंजाब के कलाकारों के बीच जाकर कर डाली ये डिमांड

दोस्तो 15 अगस्त का दिन देशभर में बड़े धूमधाम से मनाया गया देश के हर घर में तिरंगा लहराया गया।हर साल की तरह इस साल भी लाल किला परिसर में हर राज्य से आए बच्चो ने अपनी प्रस्तुति पेश की ।इस अवसर पर देश के प्रधानमंत्री ने भाषण दिया और उसके बाद वो कर दिखाया जो आज से पहले कभी नही हुआ ।प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी प्रोटोकॉल को तोड़ते हुए सभी बच्चो के बीच पहुंच गए और पंजाब से आए बच्चो से कर डाली ये मांग ।आखिर इस खुशी के अवसर में मोदी जी ने प्रोटोकॉल तोड़ कर क्या मांग की जानने के लिए खबर को अंत तक जरूर पढ़े ।

उन्होंने इस दौरान पंजाब वाले सेक्शन में सजे-धजे बच्चों से आग्रह किया कि वह उन्हें कुछ सांस्कृतिक प्रस्तुति देकर दिखाएं। पीएम की इस अपील पर वे बच्चे भी फट से राजी हुए और अपनी कुर्सियां छोड़ते हुए सामने आकर भंगड़ा या गिद्दा सरीखा नृत्य करने लगे। पीएम भी उनके डांस का आनंद लेते हुए तालियां बजाने लगे।

पारंपरिक कुर्ता और चूड़ीदार पायजामे के ऊपर नीले रंग की जैकेट के साथ तिरंगे की धारियों वाला सफेद रंग का साफा पहने प्रधानमंत्री बड़े ही सरल, सौम्य और सहज अंदाज में बच्चों के बीच पहुंचे। वह इसके बाद कुछ का अभिवादन स्वीकारने लगे, जबकि कुछ से हाथ मिलाने लगे। वह नॉर्थ ईस्ट होते हुए म.प्र के रास्ते गुजरात, गोवा और तमिल नाडु वाले सेक्शन में दाखिल हुए और बच्चों से मिले। पंजाब वाले हिस्से में पहुंचे तो बच्चों का डांस देखा और उस दौरान मुस्कुराते हुए ताली बजाने लगे। देखें, घटना से जुड़ा पूरा वीडियोः

समझा जा सकता है कि पीएम होने के बाद भी वह कितनी सहजता से बच्चों से मिले। दरअसल, कार्यक्रम स्थल पर बच्चों का एक बड़ा समूह भारत के नक्शे की आकृति में बिठाया गया था। इस मैप में जिस जगह जो सूबा था, उसी जगह पर उस राज्य के बच्चों को वहां के सांस्कृतिक परिधान में देखा गया। इस नक्शे के जरिए अनेकता में एकता का संदेश देने की कोशिश भी की गई कि हमारे मुल्क में भले ही कितने सूबे, वहां की संस्कृतियां, पहनावे और तौर-तरीके अलग हों, पर जब हम साथ आते हैं तो एक होते हैं।

About Megha