Breaking News
Home / बॉलीवुड / दर्द से बेचैन अमिताभ बच्चन ने जब इन्दिरा गांधी को देखते ही कहा”आंटी मैं सो नहीं पा रहा हूँ”,सुनते हो रो पड़ी प्रधान मंत्री

दर्द से बेचैन अमिताभ बच्चन ने जब इन्दिरा गांधी को देखते ही कहा”आंटी मैं सो नहीं पा रहा हूँ”,सुनते हो रो पड़ी प्रधान मंत्री

दोस्तो जिंदगी का कोई भरोसा नही अभी है पल भर में नही ।इंसान के जीवन में कब क्या हो जाए कुछ कहा नहीं जा सकता ।दुनिया में बहुत से ऐसे लोग होगे जिनके साथ कोई न कोई बड़ा हादसा हुआ होगा जिसने उनके बचने तक की उम्मीद न हो । लेकिन बाद में वो ठीक हो गए हो पर ऐसे दुखी समय में पीड़ित इंसान हर किसी से अपना दर्द नही बांटता।आज हम आपको बॉलीवुड के महानायक अमिताभ बच्चन के साथ हुए एक दर्दनाक हा”दसे के बारे में बताने वाले है।जिसमे उनकी हालत बहुत ही खराब हो गई थी ऐसी स्थिति में अभिनेता अमिताभ ने देश की प्रधानमंत्री से कही थी ये बात ।अभिनेता के साथ क्या हुआ था और उन्होंने प्रधानमंत्री से क्या कहा था जानने के लिए लेख को अंत तक जरूर पढ़े।

बॉलीवुड फिल्मी दुनिया  के सुपरस्टार अमिताभ बच्चन ने बॉलीवुड में अपने अभिनय से खास पहचान बनाई है और करोड़ों दिलों पर आज भी बिग बी राज करते हैं. आपको बतादे वर्ष 1983 में एक्टर अमिताभ बच्चन की फिल्म “कुली” आई थी. यह फिल्म सुपरहिट रही थी. लेकिन फिल्म कुली की शूटिंग के दौरान अमिताभ बच्चन के साथ काफी बड़ी दुर्घटना भी घट गई थी. इस दुर्घटना के कारण एक्टर अमिताभ बच्चन की जान भी जा सकती थी.

हादसे में एक्टर अमिताभ बच्चन के  पेट में चोट लगी थी उनकी आंत को काफी नुकसान पहुंचा था. उसके बाद में काफी वक़्त तक उनको मुंबई के ब्रीच कैंडी हॉस्पिटल में इलाज के लिए रखा गया था. और यह बात पूरी दुनिया को मालूम हो गई थी की उनकी आंत फट गई है.खबरों के अनुसार इस बात की जानकरी जब इंदिरा गांधी को इस घटना की जानकारी मिली जब उस समय इंदिरा गांधी अपने बेटे के साथ अमेरिका में थी. यह जानकारी एक किताब में लिखी हुई थी उससे हमने प्राप्त की. इस किताब मे लिखा हुआ था. इसमें प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी ने लिखा था. “मैं उस वक्त लॉस एंजिल्स में थी.जब मुझे खबर मिली कि अमिताभ की हालत नाजुक है.अगर मैं भारत में होती तो मेरा पूरा परिवार मुंबई में उनके साथ होता. इसके पश्चात तुरंत ही इंदिरा गांधी ने बेटे राजीव गाँधी को भारत वापिस भेज दिया था.

जब इंदिरा गांधी भारत वापस आई उसके बाद में वो अपने बेटे और बहु के साथ में हॉस्पिटल गई थी. अमिताभ बच्चन से मिलने के लिए और उस वक़्त हॉस्पिटल में अमिताभ बच्चन के ससुर तरुण कुमार भादुड़ी वही पर थे और उन्होंने जैसे ही प्रधानमंत्री इंदिरा गाँधी को देखा तब उनकीआखे नम हो रखी थी और दूसरी और अमिताभ की भी हालत बहुत ख़राब थी.अभी तक वो बेड पर ही थे. तब एक्टर अमिताभ बच्चन ने कहा,”आंटी मैं सो नहीं पा रहा हूं”.यह सुनकर इंदिरा गाँधी रो पड़ीं और उन्होंने अमिताभ को दिलासा देते हुए कहा,” मैं भी कभी-कभार नहीं सो पाती हूं.इसमें परेशान होने की कोई बात नहीं है”.

खबरों के अनुसार अमिताभ बच्चन को गहरी चोट लगी थी. की डॉक्टर को नहीं लगता था की वो सही होंगे और वो कुछ समय के बाद कोमा में चले गए थे. और उनको क्लिनिकली डेड घोषित कर दिया था.एक इंटरव्यू व्यु मे बिग बी ने खुद बतया था की “मैं कोमा में चला गया था” मुझे इमरजेंसी में अस्पताल ले जाया गया और मेरी सर्जरी की गई. मैं 14 घंटे तक बेहोश था. मेरे पल्स डाउन थे और बीपी शून्य थे.एक्ट्रेस जया बच्चन ने बताया था कि “जब हमें खबर मिली तो हम भागते हुए हॉस्पिटल पहुंचे. उस वक्त मेरे जेठ वहां मौजूद थे. उन्होंने मुझसे कहा कि हम सब तुम्हारा ही इंतजार कर रहे हैं. तुम्हें इस वक्त बहादुर बनने की जरूरत है. एक्ट्रेस जया बच्चन ने बताया था कि उस वक्त मेरे हाथ में हनुमान चालीसा की किताब थी और मै प्रार्थना कर रही थी.में कह रही थी कि ऐसा कुछ नहीं हो सकता है.वो वक़्त बिग बी की ज़िन्दगी का सबसे बुरा वक़्त था. और फिल्म कुली बहुत हिट हुई थी.

About Megha