Breaking News
Home / बॉलीवुड / हेमा मालिनी की सौतन और अपनी सोतेली माँ से जब पहली बार मिली ईशा दियोल, पैर छूने पर कही थी यह बात

हेमा मालिनी की सौतन और अपनी सोतेली माँ से जब पहली बार मिली ईशा दियोल, पैर छूने पर कही थी यह बात

दोस्तो बॉलीवुड के दिग्गज अभिनेता धर्मेंद्र अपने समय के जाने माने अभिनेता है ।कितनी की लड़किया उनके अभिनय ही नहीं उनकी लुक्स पर भी मरती थी । दर्शको को परदे पर बहुत सी अभिनेत्रियों के साथ धर्मेंद्र की जोड़ी अच्छी लगती थी लेकिन आपको बता दे फिल्मों में आने से पहले धमेंद्र की शादी हो गई थी और उनके चार बच्चे थे दो बेटे और दो बेटियां ।बेटे पिता की तरह बॉलीवुड में अभिनय करने लगे ।सनी देओल और बॉबी देओल ने अपने अभिनय से इंडस्ट्री में अपनी पहचान बनाई।लेकिन बेटियो की शादी हो चुकी है और अजेता और विजेता इन सब से दूर रहना ही पसंद करती है ।

फिल्मों में नाम कमाने के बाद धर्मेंद्र ने हिंदी सिनेमा की ड्रीम गर्ल कही जाने वाली अभिनेत्री हेमा मालिनी से शादी रचाई। हेमा से शादी करने के बाद धर्मेंद्र के घर दो बेटियां हुई जिनका नाम ईशा देओल और आहना देओल रखा गया। हालांकि, हेमा से शादी करने के बाद धर्मेंद्र ने कभी भी अपने पहले परिवार को नहीं छोड़ा तो वहीं दूसरी पत्नी हेमा और उनके बच्चों को भी खूब प्यार दिया।

कहा जाता है कि, हेमा से शादी के बाद इस परिवार का कोई भी शख्स धर्मेंद्र के पहले परिवार से मिलने नहीं जाता था और न ही उन्हें किसी से मिलने की इजाजत थी। लेकिन सिर्फ हेमा की बड़ी बेटी ईशा देओल ही एक पहली शख्स थी जो धर्मेंद्र के पहले परिवार से मिल पाई थी और इस पूरे मामले में उनका साथ भाई सनी देओल ने दिया था।

हेमा मालिनी की ऑटो बायोग्राफी के मुताबिक, हेमा के परिवार की किसी भी शख्स को धर्मेंद्र के पहले परिवार से मिलने की अनुमति नहीं थी, लेकिन ईशा देओल इन सारी हदों को पार करके अभय देओल के पिता से मिलने पहुंच गई थी। दरअसल, अभिनेता अभय देओल, सनी देओल के चचेरे भाई हैं। ऐसे में अभय देओल के पिता ईशा देओल के चाचा जी हुए। कहा जाता है कि, ईशा देओल बचपन से ही अपने चाचा यानी कि अभी देओल के पिता के बहुत ही करीब रही।वहीं अभय के पिता भी हेमा की दोनों बेटियों को बहुत प्यार करते थे। ऐसे में एक दिन अचानक अभय  देओल के पिता की तबीयत खराब हो गई और ईशा देओल उनसे मिलना चाहती थी।

लेकिन धर्मेंद्र के परिवार से मिलने की इजाजत नहीं होने के चलते ईशा ने सबसे पहले सनी देओल से संपर्क किया और फिर उन्होंने ईशा के मिलने का पूरा मामला सेट किया। एक इंटरव्यू के दौरान खुद ईशा देओल ने कहा था कि, “मैं अपने चाचा से मिलना चाहती थी और उनका समाचार लेना चाहती थी। वह मुझसे और मेरी छोटी बहन अहाना से बहुत प्यार करते हैं। हम अभय के भी बहुत करीब थे। वह अस्पताल में भी नहीं थे कि ताकि हम उनसे वहां मिल सके। हमारे पास उनके घर जाने के अलावा कोई दूसरा रास्ता नहीं था।”

कहा जाता है कि, हेमा से शादी करने के बाद भी धर्मेंद्र ज्यादातर समय अपने पहले परिवार के साथ ही बिताते थे। वहीं हेमा को भी इस बात का जरा भी बुरा नहीं लगता था और ना ही वह कभी धर्मेंद्र को अपने पास रोकने की जिद करती थी। कहा जाता है कि, जब ईशा देओल अपने पिता की पहली पत्नी प्रकाश कौर के पास गई थी तो तब प्रकाश कौर ने ईशा से कोई बात नहीं की थी। इस दौरान ईशा ने प्रकाश कौर के पैर भी छुए थे लेकिन वह उन्हें आशीर्वाद देकर चली गई।

About Megha