Breaking News
Home / धार्मिक / इस दिन से शुरू हो रहे है नवरात्र, ये है पूजा का शुभ मुहूर्त,पूजा करते समय रखे ये ध्यान

इस दिन से शुरू हो रहे है नवरात्र, ये है पूजा का शुभ मुहूर्त,पूजा करते समय रखे ये ध्यान

दोस्तों 6 अक्टूबर 2021 को पितृ पक्ष समाप्त हो जायेगा और 7 अक्टूबर 2021 से माँ दुर्गा के शारदीय नवरात्रि शुरू हो रहे है. नवरात्रि के नौ दिनों तक देवी के हर स्वरूप की पूजा की जाती है .जो कोई भी श्रद्दा के साथ नवरात्रि के नौ दिनों तक माँ दुर्गा की पूरी निष्ठां के साथ और नियमो का पालन करते हुए पूजा अर्चना करता है देवी उसके सभी कष्ट हर लेती है .सभी मनोकामना पूर्ण करती है . नौ दिनों तक देवी की पूजा करके दसवे दिन देवी की मूर्ति का विसर्जन किया जायेगा और बड़े धूमधाम के साथ देश भर में दशहरा का त्यौहार मनाया जायेगा .

नवरात्रि के प्रथम दिन घटस्थापना के साथ नौ दिन के लिए देवी मां का पूजन शुरू किया जाता है. घटस्थापना के कुछ विशेष नियम हैं, जिनका पालन करना जरूरी है. घटस्थापना के लिए शुभ मुहूर्त का विशेष रूप से ध्यान रखें. 7 अक्टूबर को घटस्थापना का शुभ मुहूर्त सुबह 6 बजकर 17 मिनट से सुबह 7 बजकर 7 मिनट तक का है. इसी समय घटस्थापना करने से नवरात्रि फलदायी होते हैं.

घटस्थापना या कलश स्थापना के नियम

घटस्थापना या कलश स्थापना के दौरान कुछ विशेष नियमों को ध्यान में रखना चाहिए. देवी मां की चौकी संजाने के लिए हमेशा उत्तर-पूर्व दिशा का स्थान चुनें. इस स्थान को साफ कर लें और गंगाजल से शुद्ध करें. एक लकड़ी की चौकी रखकर उस पर लाल रंग का साफ कपड़ा बिछाकर देवी मां की मूर्ति की स्थापना करें. इसके बाद प्रथम पूज्य गणेश जी का ध्यान करें और कलश स्थापना करें. कलश स्थापना या घट स्थापना के लिए नारियल में चुनरी लपेट दें और कलश के मुख पर मौली बांधे. कलश में जल भरकर उसमें एक लौंग का जोड़ा, सुपारी हल्दी की गांठ, दूर्वा और रुपए का सिक्का डालें. अब कलश में आम के पत्ते लगाकर उस पर नारियल रखें और फिर इस कलश को दुर्गा की प्रतिमा की दायीं ओर स्थापित करें.

नवरात्रि की शुरुआत 7 अक्टूबर  2021 दिन गुरुवार को मां शैलपुत्री की पूजा से शुरू होगी. 8 अक्टूबर को मां ब्रह्मचारिणी, 9 अक्टूबर दिन शनिवार को मां चंद्रघंटा पूजा व मां कुष्मांडा की पूजा होगी. 10 अक्टूबर को चौथे दिन मां स्कंदमाता, 11 अक्टूबर दिन सोमवार को पांचवे दिन मां कात्यायनी की पूजा होगी. . 12 अक्टूबर, मंगलवार को छठे दिन मां कालरात्रि की पूजा होगी. 13 अक्टूबर दिन बुधवार को सातवें दिन मां महागौरी की पूजा की जाएगी. 14 अक्टूबर दिन गुरुवार को मां सिद्धिदात्री की पूजा की जाती है. वहीं  15 अक्टूबर दिन शुक्रवार को दशमी के दिन नवरात्रि व्रत का पारण किया जाएगा और दशहरा का पर्व भी मनाया जाएगा….

Check Also

सुबह-शाम दिखे ये संकेत तो समझ जाईये, आपसे प्रसन्न हैं मां लक्ष्मी, जल्द मिलने वाला है धन लाभ

अक्सर हमारी रोज की ज़िन्दगी में कुछ न कुछ घटना रहता है, कभी अच्छा तो …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *