Breaking News
Home / जरा हटके / गांधारी के श्राप के कारण,है अफ़गानिस्तान की ये हालत,ये था श्राप

गांधारी के श्राप के कारण,है अफ़गानिस्तान की ये हालत,ये था श्राप

मित्रों इस दुनिया में कोई भी व्यक्ति हो वह अपने बुरे कर्मो से पीछा नही छुड़ा पाता है और उसके किये हुये बुरे कर्म के आधार पर ही सजा मिलती है और इससे कोई आज तक बच नही पाया है। ऐसे में अगर किसी को श्राप मिला हो तो वो तो कभी न कभी अपना रंग दिखायेगा ही। आज कुछ ऐसी बातों का खुलासा करने वाले है जो कि अफगानिस्तान के संबंध में है। आपको बता दें कि गंधारी के श्राप की वजह से ही अफगानिस्तान के ये हालात है। तो आइए जाने आखिर गांधारी ने अफगानिस्तान को क्यों दिया था श्राप।

दरअसल अफगानिस्तान का हिंदू धर्म से भी एक बहुत अहम जुड़ाव है। अफगानिस्तान में ही कंधार है। वहीं कंधार जहां आज एयरपोर्ट है। अफगानिस्तान का न सिर्फ महाभारत बल्कि सीधे शिव जी से भी जुड़ाव है। ऐसा माना जाता है कि अफगानिस्तान से भारत का संबंध दशकों या सैकड़ों साल पुराना नहीं है बल्कि यह संबंध आज से लगभग 5000 वर्ष पुराना है। इतिहास के सबसे बड़े युद्ध की शुरुआत यहीं से हुई थी और महाभारत की योजना भी अफगानिस्तान से ही बनाई गई थी। कुछ इतिहासकार बताते हैं कि पांडवों के द्वारा कौरवों को हार मिलने के बाद उनके वंशज यही अफगानिस्तान में ही बस गए थे। शकुनी मामा भी अफगानिस्तान के कंधार में बसे थे और बाद में उन्होंने इराक और सऊदी अरब जाकर बसना सही समझा।

आपकी जानकारी के लिये बता दें कि गांधार शब्द का इस्तेमाल महाभारत के साथ साथ ऋग्वेद और रामायण में भी देखने को मिलता है। गांधार शब्द का मतलब होता है ‘गंध’ और गांधार शब्द का इस्तेमाल सुगंधित जमीन के लिए किया जाता है। यहां केसर की खेती बहुत अधिक होती थी। इसलिए इस शब्द का इस्तेमाल किया जाता है। पौराणिक मान्यताओं के मुताबिक भगवान शिव जी का भी नाम गांधार था। इस बात का उल्लेख आपको शिव सहस्त्रनाम में भी देखने को मिलेगा। इतिहासकार बताते हैं कि यहां शिव भक्तों का वास हुआ करता था। बता दें कि महाभारत के समय गांधारी ने अपने 100 पुत्रों को खोने के बाद शकुनी को श्राप दिया था। गांधारी ने श्राप देते हुई कहा था कि “मेरे 100 पुत्रों को इस दुनिया से अलविदा करवाने वाले गांधार नरेश तुम्‍हारे राज्‍य में कभी भी खुशी नहीं आएगी। आगे गांधारी कहती है की नरेश हमेशा तुम्हारे राज्य में अस्थिरता जारी रहेगी।” इतिहासकार बताते हैं वर्तमान समय में अफगानिस्तान में अस्थिरता आने का कारण भी गांधारी ही है। इस संबंध में आप लोगों की क्या प्रतिक्रियायें है।

Check Also

चूहों के आ’तंक से बचने के अचूक उपाय,1 दिन में भाग जायेंगे सारे चूहे

वैसे तो चूहे उन स्थानों पर ज्यादा होते  है जन्हा अनाज या खाने पीने का …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *