Breaking News
Home / राजनीती / भाजपा में शामिल होते ही सिंधिया ने पकड़ी कांग्रेस की चोरी

भाजपा में शामिल होते ही सिंधिया ने पकड़ी कांग्रेस की चोरी

कांग्रेस का साथ छोड़ कर भारतीय जनता पार्टी में शामिल होते ही ज्योतिरादित्य सिंधिया को मोदी मंत्री मंडल में एक बड़ी ज़िम्मेदारी सौंपी गयी ! सिंधिया ऐसे नेता है जिन्हें पार्टी को बदलने के बाद ही इज्जत और शोहरत मिल पाई है आपको बता दें कि मोदी मंत्रिमंडल में सिंधिया ने नागरिक उड्डयन मंत्री का पद सम्भाला है और भाजपा में शामिल होते ही सिंधिया ने कांग्रेस की बहुत बड़ी चोरी पकड़ ली है

ज्योतिरादित्य सिंधिया को नागरिक उड्डयन मंत्री बनाए जाने पर छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने एक बहुत ब ड़ा बयान दिया है। भूपेश बघेल ने अपने बयान में यहां तक कह दिया कि ज्योतिरादित्य सिंधिया एक बिका ऊ नेता है। किसी राज्य के मुख्यमंत्री द्वारा इस तरह का बयान देना आखिर कहां तक उचित है?

ज्योतिरादित्य सिंधिया ने किया ट्वीट

दरअसल भाजपा के नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल (Bhupesh Baghel) को लेकर ट्वीट किया था जिसके बाद भूपेश बघेल (Bhupesh Baghel) ने बयान दिया है। ज्योतिरादित्य सिंधिया ने अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल के माध्यम से ट्वीट करते हुए लिखा है कि “भूपेश बघेल अपने दामाद का निजी महाविद्यालय बचाने के लिए उसे सरकारी कोष से खरीदने की कोशिश में हैं। प्रदेश की राशि का उपयोग अपने दामाद के लिए, वो भी एक ऐसा मेडिकल कॉलेज जिस पर कई आ रोप मडिकल कॉउंसिल ऑफ़ इंडिया द्वारा लगाए गए थे। कौन बिका ऊ है और कौन टिकाऊ, इसकी परिभाषा अब साफ है।”

छत्तीसगढ़ के सीएम भूपेश बघेल ने ट्वीट कर दिया जवाब

भाजपा (BJP) के नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया (Jyotiraditya Scindia) जवाब देते हुए भूपेश बघेल (Bhupesh Baghel) लगातार तीन ट्वीट करते हैं। ट्वीट में भूपेश बघेल लिखते हैं कि “यह खबर कल्पना पर आधारित है। मैं इसे नही मानता। अगर जनहित का सवाल होगा तो सरकार निजी मेडिकल कॉलेज भी ख़रीदेगी और नगरनार का संयंत्र भी। हम सार्वजनिक क्षेत्र के पक्षधर लोग हैं और रहेंगे।


हम उनकी तरह जनता की संपत्ति बेच नहीं रहे हैं।

सोशल मीडिया यूजर दे रहे हैं जवाब

एक टि्वटर यूजर छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल (bhupesh baghel) को जवाब देते हुए ट्वीट कर लिखते हैं कि “अपने दामाद को कामयाब करना हर कांग्रेसी का इतिहास रहा है। उसको जनहित का जामा पहनाने से न तो आपकी सरकार का गलत काम छुपेगा नहीं, और न ही आपके सरकार का फैलियर। मुख्यमंत्री जी, कभी जब खाली रहते हैं तो अपना घो षणा पत्र भी पढ़िए। अपने मंत्रियों को भी पढ़ने के लिए बोलिए।

Check Also

इस बार मुहर्रम पर नहीं निकलेगा ताजिया और जुलूस

हमारे देश में कई ऐसे त्योहार है जो हर साल बड़े धूम धाम से मनाये …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *