Breaking News
Home / देश विदेश / अद्भुत बच्चे ने लिया जन्म,हुआ ईश्वर का चमत्कार

अद्भुत बच्चे ने लिया जन्म,हुआ ईश्वर का चमत्कार

इश्वर का आशीर्वाद जिसके सर पर हो उसे कभी कुछ भी नही हो सकता ! इस दुनिया में हमने इश्वर के कई चमत्कार देखे है और आज हम आपको उन्ही में से एक चमत्कार के बारे में बताने वाले है ! ये कहानी है एक बच्चे कि जिसका जन्म जब हुआ तो उसका बच पाना असंभव था लेकिन इस बच्चे ने ये कहावत बिलकुल सच साबित कर दी कि जाको राखे सइयां, मार सके ना कोई” ! इस बच्चे का जन्म मात्र 4.5 महीने के भीतर ही हो गया जिस समय इसका बचना नामुमकिन था लेकिन इश्वर की पार कृपा के कारण आज वो बच्चा 1 साल 16 दिन का हो गया है, आइए जानते है विस्तार से उस बच्चे के बारे में।

रिचर्ड स्कॉट विलियम हचिंसन का परिचय-

आज हम आपको रिचर्ड के बारे में बताएंगे जिसका जन्म अमेरिका में हुआ है, आपको बता दे कि रिचर्ड एक प्रीमैच्योर बेबी है जिसका जन्म 5 जून 2020 को हुआ। रिचर्ड का वजन जन्म के समय बहुत ही कम था जी हाँ रिचर्ड सिर्फ 340 ग्राम का था जन्म के समय, ये वजन दुनिया मे जन्मे सभी प्रीमैच्योर बच्चो में सबसे कम था। डॉक्टर्स ने इस बच्चे की जीने की संभावना 0 प्रतिशत बताई थी बिल्कुल ना के बराबर। परन्तु इस बच्चे ने अपनी लड़ाई लड़ी और बीते 5 जून को उनसे अपना पहला बर्थडे मनाया।

गिनीज बुक में दर्ज है नाम-

रिचर्ड का नाम गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड में दर्ज है, क्योंकि वो दुनिया का पहला बच्चा है जिसका जन्म 9 माह में नही बल्कि 139 दिन यानी साढ़े चार महीने में हुआ है। आज उनके माता पिता बहुत खुश है क्योंकि रिचर्ड ने अपनी सभी शारीरिक बाधाओं को पार कर लिया है, और सबसे अच्छी बात ये है को अब वो बाकी बच्चो की तरह सामान्य और स्वस्थ है। गिनीज वर्ल्ड रिकॉर्ड से बातचीत में रिचर्ड खव पिता रिक ने बताया कि हम इस बात के लिए तैयार थे कि रिचर्ड के शुरुआती सप्ताह उसके लिए मुश्किल होंगे पर हम ये जानते थे कि वो सारी समस्याओं से लड़ कर बच जाएगा।

रिचर्ड की माँ बेथ का कहना है कि रिचर्ड उनपर भरोसा कर रहा था, जब उसे अस्पताल से 6 महीने बाद 20 दिसंबर 2020 को घर लाया गया और उसे पालने में रखा तो आंख में आशु आ गए थे।रिचर्ड के माता-पिता का कहना है कि उनको इस बात की खुशी और आश्चर्य है कि रिचर्ड ने वर्ल्ड रिकॉर्ड बनाया है। आज रिचर्ड के बारे में पूरी दुनिया जानती है, इस बात से उन बच्चों के माता-पिता को हिम्मत मिली है जिनके बच्चे प्रीमैंचियोर जन्मे है। गिनीज बुक के अनुसार रिचर्ड का शरीर इतना छोटा था की वह अपने माता-पिता के की हथेली में समा जाता था।

हम कामना करते है कि रिचर्ड हमेशा स्वस्थ और खुश रहे, हमारी तरफ से रिचर्ड और उनके माता-पिता को ढ़ेर सारी शुभकामनाएं।

Check Also

नकली किसानों के खिलाफ एकजुट हुए व्यापारी,दे डाली धमकी

पिछले कुछ महीने से किसानो में कृषि कानूनों को रद्द करने के समर्थन में धरना …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *